Saturday, 17 June 2017

2-523 मुझसे लिखवा लिया वो,

मुझसे लिखवा लिया वो, जो मैं लिखना नहीं चाह रहा था,
लोगों ने अर्थ निकाल लिया वो, जो मैं कहना नहीं चाह रहा था..(वीरेंद्र)/2-523


रचना: वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"-

No comments:

Post a Comment