Monday, 17 April 2017

1-917 दिल तोड़ने का मुकाबला


दिल तोड़ने का मुकाबला, मै उस पत्थर-दिल से न कर पाऊंगा,

वो तो मेरा दिल तोड़ देगा झटसे, मै उसका दिल तोड़ न पाऊंगा..(वीरेंद्र)/1-917

रचना; वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"

No comments:

Post a Comment