Saturday, 11 February 2017

2-492 वंशराज की परंपरा रुक

वंशराज की परंपरा रुक जाएगी,
देश की तरक्की ना होने पाएगी,
युवराज जी को समझाओ लोगों,
जनता भावी-युवराज कब पाएगी..(वीरेंद्र)/2-492


रचना: वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"

No comments:

Post a Comment