Saturday, 7 January 2017

2-483 वैसे तो मै सारी

वैसे तो मै सारी दुनियां को मैं माफ़ कर दूं
पर दिल दुखाने वाले को क्यों माफ़ कर दूं..(वीरेंद्र)/2-483


रचना: वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"

No comments:

Post a Comment