Friday, 16 December 2016

1-838 किस किस को भूल जाऊं


किस किस को भूल जाऊं मै, ऐ बेवफा,
मुझे तो हरेचेहरा तेरे जैसा लगने लगा है..(वीरेंद्र)/1-838


रचना: वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"

No comments:

Post a Comment