Monday, 17 October 2016

2-451 ज़िन्दगी में तरक्की

ज़िन्दगी में तरक्की तजुर्बों से की जाती है,
इनकी तालीम हमें ठोकरों से दी जाती है।..(वीरेंद्र)/२-451


©रचना: वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"

No comments:

Post a Comment