Sunday, 17 January 2016

2-344 मुझे एक शख्स का नाम

मुझे एक शख्स का नाम बता दो, राजा से रंक तक,
जिसने दुःख या दर्द न देखा हो, प्रारम्भ से अंत तक,
परमात्मा का न्याय सभी इंसानों पर समान लागू है, 
साधारण व्यक्ति से लेकर साधू, महात्मा, महंत तक ..(वीरेंद्र)/2-344

रचना: वीरेंद्र सिन्हा "अजनबी"

No comments:

Post a Comment